न्युरोलजी: जानें हाथ कांपने की समस्या किस बीमारी की और इशारा करती है !

कुछ लोगों को सामान पकड़ते समय, या कुछ लिखते समय या अन्य काम करते समय हाथ कांपने की दिक्कत होती है।

तो वही कुछ लोगों को पता ही नहीं चलता की ये समस्या क्यों होती है। इसके अलावा आज के लेख में हम बात करेंगे की हाथ कांपने की समस्या क्यों होती है, और हाथ का कांपना किस बीमारी की और इशारा करता है इसलिए इसके बारे में जानने के लिए आर्टिकल के साथ अंत तक बने रहें ; 

क्यों होती है हाथ कांपने की परेशानी ?

  • अगर किसी भी व्यक्ति के साथ इस तरह की दिक्कत हो तो वो ब्रेन की ऐक्टिविटीज से जुड़ी होती है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि जब शरीर की कुछ खास कोशिकाएं किसी भी चोट या बीमारी के कारण दब जाती हैं, तब व्यक्ति में इन दिक्कतों की शुरुआत होती है।
  • वही हाथ कांपने की दूसरी समस्या तब उत्पन होती है जब आप चिंतित या क्रोधित हो जाते हैं। 
  • वही अगर आप भी इस समस्या का सामना कर रहें है तो इससे निजात पाने के लिए आपको बेस्ट न्यूरोलॉजिस्ट लुधियाना का चयन करना चाहिए।

किस बीमारी की वजह से हाथ कांपने की समस्या उत्पन होती है ?

  • ये एक विल्सन डिजीज है। ये बीमारी व्यक्ति को अचानक से नहीं होती है। यह एक दिमाग का रोग है। 
  • वही चोट के अलावा इस बीमारी के कारण वंशानुगत भी हो सकते हैं। जैसे अगर माता-पिता में ये बीमारी होगी तो बच्चों में इस समस्या के उत्पन होने की ज्यादा संभावना होती है।

किन कार्यो को करते वक़्त हाथ कांपने की होती है समस्या ?

  • जिन लोगों को हाथ कांपने की दिक्कत होती है वे कैंची का उपयोग करने, सुईं में धागा डालने, सब्जी काटने, लिखने, देर तक टाइपिंग करने जैसे कुछ कामों को करने में दिक्कत का अनुभव कर सकते हैं, और ऐसे लोगों को हाथों और ब्रेन के बीच अधिक सामंजस्य बनाए रखने की जरूरत होती है।

बिना वजह हाथ कांपने की समस्या क्यों उत्पन होती है ?

  • कुछ अनुभवी डॉक्टरों का कहना है कि बिना वजह हाथ का कांपना तंत्रिका तंत्र में समस्या है और यह समस्या व्यक्ति को बहुत ज्यादा तनाव में भी डाल सकती है। 

हाथ कांपने की समस्या को कैसे सुधारा जा सकता है ?

  • लाइफस्टाइल को व्यवस्थित कर या हाथों से जुड़े व्यायाम करके इस स्थिति को सुधारा जा सकता है। रक्त प्रवाह बाधित न हो, इसका आपको खास ख्याल रखना है।
  • इसके अलावा हाथ सामान्य कार्य करते वक़्त भी कांप रहें है तो इसको नज़रअंदाज़ न करें बल्कि समय रहते डॉक्टर का चयन करें। वही किसी व्यक्ति में यह दिक्कत गंभीर रूप ले चुकी है तो दवाइयों और सर्जरी के जरिए इसका इलाज करें।
  • इसके अलावा इस समस्या के निदान के लिए आप फिजिशियन, न्यूरॉलजिस्ट, सायकाइट्रिस्ट से मिल सकते हैं। जिससे वो आपकी स्थिति के हिसाब से आपकी बीमारी से जुड़ी सलाह और दवाई आपको देंगे।

सुझाव :

अगर हाथ कांपने की समस्या आपके अंदर बीमारी का रूप धारण कर चुकी है तो इससे बचाव के लिए आपको झावर ब्रेन एन्ड स्पाइन हॉस्पिटल का चयन करना चाहिए। 

निष्कर्ष :

हाथ कांपने की समस्या सामान्य सी भी होने पर फ़ौरन डॉक्टर का चयन करें क्युकि इस समस्या का समय रहते इलाज करवा कर हम इस बीमारी का खात्मा जड़ से कर सकते है पर अगर ये समस्या ज्यादा बढ़ गई तो ये अपने साथ कई अन्य बीमारियों को जन्म दे सकती है। इसलिए इसके शुरुआती दौर में ही आप सतर्क हो जाए।

आयरन की कमी से मानसिक स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ता है, जाने इसके क्या है लक्षण
HindiNeurologist

आयरन की कमी से मानसिक स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ता है, जाने इसके क्या है लक्षण

आयरन मानव के शरीर के लिए बेहद ज़रूरी मिनरल होता है, जो कई महतवपूर्ण कार्य में अपनी विशेष भूमिका निभाते है | दरअसल आयरन शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं की…

  • June 17, 2024

  • 9 Views

माइग्रेन को कम करने के लिए बेहद ही आसान घरेलु नुस्खा,जो इस समस्या को करे जड़ से ख़तम
Hindi

माइग्रेन को कम करने के लिए बेहद ही आसान घरेलु नुस्खा,जो इस समस्या को करे जड़ से ख़तम

अगर आप भी गंभीर सिरदर्द और माइग्रेन जैसी समस्या से पीड़ित है तो ऐसे ही कुछ घरेलु उपचार का इस्तेमाल करके इस समस्या से छुटकारा पा सकते है  | यह…

  • June 11, 2024

  • 15 Views