जानिए ब्रेन ट्यूमर के लक्षणों को नज़रअंदाज़ करना कैसे पड़ सकता है भारी !

कैंसर जिसका नाम सुनते ही लोगों के पैरों तले जमीन खिसक जाती है, और साथ ही ये काफी खतरनाक बीमारी में से एक मानी जाती है। वही अगर व्यक्ति को ब्रेन ट्यूमर हो जाए तो वो कैसे खुद का बचाव कर सकता है साथ ही कैंसर के लक्षणों को जानकर हम कैसे इसको पहचाने इसके बारे में आज के लेख में बात करेंगे, तो आप या आपके करीबियों में से कोई इस तरह की समस्या का सामना कर रहा है तो कैसे वो खुद को इस तरह की समस्या से बाहर निकाल सकता है इसके बारे में आज के आर्टिकल में बात करेंगे ;

क्या है दिमाग का कैंसर ?

ब्रेन ट्यूमर में दिमाग की कोशिकाएं जरूरत से ज्यादा तेजी से बढ़ने और फैलने लगती है, जिससे आस-पास मौजूद टीश्यूज और ऑर्गन डैमेज हो जाते है। और यही ख़राब हुए ऑर्गन आपमें कैंसर जैसे खतरनाक बीमारी को उत्पन्न करते है।

दिमाग के कैंसर का पता कैसे लगाए ?

  • दिमाग के कैंसर का पता लगाने के लिए आप न्यूरोलॉजिकल जांच, सीटी स्कैन, एमआरआई स्कैन, और पॉज़िट्रॉन एमिशन टोमोग्राफी (PET) स्कैन करवा सकते है। 
  • वही इन सभी जांचों में कैंसर कोशिकाओं की जांच के लिए मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी के चारों ओर तरल पदार्थ का एक छोटा सा नमूना एकत्र किया जाता है।

दिमाग के कैंसर का पता लगाने के बाद आप बेस्ट न्यूरोलॉजिस्ट लुधियाना का चयन भी कर सकते है।

ब्रेन ट्यूमर के कितने प्रकार है ?

सामान्यतः मस्तिष्क के कैंसर को दो भागों में बाटा जाता है;

  • पहला जिसे प्राइमरी कैंसर कहा जाता है और ये कैंसर दिमाग के जिस हिस्से में शुरू होता है, बस वहीं बढ़ता रहता है। 
  • जबकि सेकेंडरी कैंसर की बात करें तो इस कैंसर की शुरुआत शरीर के किसी एक हिस्से में होती है, जिसके बाद ये शरीर के दूसरे हिस्से जैसे- दिमाग, फेफड़े, ब्रेस्ट, किडनी, कोलोन और स्किन में फैल जाते है।

ब्रेन ट्यूमर के लक्षण क्या है ?

ब्रेन ट्यूमर के कुछ लक्षण हम निम्न प्रस्तुत कर रहें है ;

  • अगर आपको बिना किसी बीमारी के लगातार सिर में तेज दर्द रहता है तो ये ब्रेन ट्यूमर का लक्षण हो सकता है। 
  • चक्कर या उल्टी महसूस करना, हालांकि, ये लक्षण कई समय बाद देखने को मिलते है. लेकिन कई बार ब्रेन ट्यूमर के शुरुआत में ही ये लक्षण सामने आ जाते है, ऐसा कैंसर की कोशिकाओं का दिमाग में मौजूद फ्लूड के साथ मिक्स होने पर भी होता है। 
  • जब शरीर में कुछ बदलाव दिखने लगे जैसे याददाश्त का कमजोर होना, व्यक्तित्व में बदलाव दिखाई देने लगें तो ये भी ब्रेन ट्यूमर के लक्षण हो सकते है। 
  • इसके अलावा आप कैंसर के लक्षणों में धुंधली दृष्टि, का दोहरा दिखना जैसा कुछ मेहसूस कर सकते है।
  • एक हाथ या एक पैर का काम नहीं करना। 
  • शरीर और दिमाग का बैलेंस बना पाने में मुश्किल का सामना करना। 
  • बोलने में परेशानी का आना। 
  • उलझन महसूस करना आदि।

ब्रेन ट्यूमर से बचाव के लिए बेस्ट हॉस्पिटल !

अगर आप या आपके परिजन में से कोई भी इस घातक बीमारी का सामना कर रहें है या इस बीमारी के लक्षण उनमे नज़र आ रहें हो तो इससे बचाव के लिए आपको झावर हॉस्पिटल का चयन करना चाहिए, वही आपको बता दे की इस हॉस्पिटल में अनुभवी डॉक्टरों के द्वारा आधुनिक उपकरणों की मदद से मरीजों का इलाज किया जाता है। 

निष्कर्ष :

मस्तिष्क का कैंसर बहुत ही खतरनाक माना जाता है, क्युकि दिमाग ही एक ऐसा पार्ट होता है जिसके माध्यम से हमारा पूरा शरीर टिका हुआ हुआ है, इसलिए अगर आपको उपरोक्त में से सामान्य लक्षण भी आप में नज़र आए, तो जल्द ही डॉक्टर का चयन करें, वर्ना दिमागी कैंसर से आपकी जान भी जा सकती है।

आयरन की कमी से मानसिक स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ता है, जाने इसके क्या है लक्षण
HindiNeurologist

आयरन की कमी से मानसिक स्वास्थ्य पर काफी बुरा असर पड़ता है, जाने इसके क्या है लक्षण

आयरन मानव के शरीर के लिए बेहद ज़रूरी मिनरल होता है, जो कई महतवपूर्ण कार्य में अपनी विशेष भूमिका निभाते है | दरअसल आयरन शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं की…

  • June 17, 2024

  • 9 Views

माइग्रेन को कम करने के लिए बेहद ही आसान घरेलु नुस्खा,जो इस समस्या को करे जड़ से ख़तम
Hindi

माइग्रेन को कम करने के लिए बेहद ही आसान घरेलु नुस्खा,जो इस समस्या को करे जड़ से ख़तम

अगर आप भी गंभीर सिरदर्द और माइग्रेन जैसी समस्या से पीड़ित है तो ऐसे ही कुछ घरेलु उपचार का इस्तेमाल करके इस समस्या से छुटकारा पा सकते है  | यह…

  • June 11, 2024

  • 15 Views