सिर के दाहिने तरफ हुए दर्द के क्या है कारण और बचाव के तरीके ?

सिर में दर्द का होना कोई बड़ी समस्या नहीं है, लेकिन हां अगर ये दर्द किसी एक जगह हो तो ये जरूर किसी बड़ी बीमारी को आमंत्रित कर सकता है इसके अलावा अगर सिर में दर्द दाई तरफ हो तो ये व्यक्ति के दर्द का खतरा और भी बढ़ा सकता है, इसके अलावा ये दर्द की समस्या क्यों व्यक्ति में उत्पन होती है इसके कारण क्या है और अगर ये समस्या व्यक्ति में उत्पन हो जाए तो कैसे करें खुद का बचाव हम इसके बारे में भी बात करेंगे आर्टिकल में इसलिए आर्टिकल को अंत तक जरूर से पढ़े ;

सिर के दाई तरफ दर्द होने के क्या कारण है ?

इसके कारण निन्मलिखित है ;

  • तनाव की वजह से सिर में दर्द का होना।   
  • माइग्रेन की वजह से सिर में दर्द का होना।  
  • क्लस्टर सिरदर्द में दर्द साइकिल पैटर्न या कुछ समय के बाद बार-बार हो सकता है। 
  • एक्सरसाइज़ हेडेक तब होता है जब कोई व्यक्ति थकान भरी गतिविधि या एक्सरसाइज़ करता है।

यदि आपने जान लिया है कि सिर में बाई तरफ दर्द के क्या कारण है तो इससे बचाव के लिए बेस्ट न्यूरोलॉजिस्ट लुधियाना का चयन करें। 

सिर दर्द क्या है ?

  • आज के समय की अगर बात करें तो हमारे बीच कई तरह की बीमारियां आम हो चुकी हैं। मुख्य रूप से बात की जाए शरीर के विभिन्न हिस्सों में होने वाले दर्द की, इसमें सिर दर्द एक ऐसी अवस्था है जो हमें बुरी तरह परेशान कर सकती हैं। 
  • इसके अलावा विभिन्न बातों द्वारा अत्यधिक तनाव एवं कुछ अन्य कारणों की वजह से यह स्थिति पैदा हो सकती है। तो वही चाहे कोई भी कारण क्यों ना हो सिर दर्द का, हमारी यही कोशिश रहती है कि किसी ना किसी तरह से यह दर्द ठीक हो जाए। आमतौर पर यह एक सामान्य दर्द माना जाता है। लेकिन हां, कई लोगों में यह स्थिति काफी गंभीर हो जाती है।

सिर के बाई तरफ दर्द से बचाव के तरीके क्या है ?

  • हालांकि सिर में बाई तरफ दर्द का इलाज आमतौर पर उसके कारण के मुताबिक किया जाता है। जैसे कि नेज़ल स्प्रे और कुछ अन्य दवाइयों के माध्यम से दर्द को दूर किया जाता है। वही ज़रूरत पड़ने पर डॉक्टर आपकी डाइट में भी बदलाव ला सकते हैं। इसके अलावा कुछ ऐसी थैरेपी हैं जो इन स्थितियों में फायदेमंद साबित होती हैं। यदि दर्द ज़्यादा है तो मसाज के माध्यम से भी राहत मिल सकती है।
  • अब बात आती है माइग्रेन की, तो इसमें भी शुरुआती तौर पर इंजेक्शन और दवाइयों का सहारा लिया जाता है। यदि स्थिति फिर भी नहीं सुधरती है, तो थैरेपी, एक्सरसाइज़, ट्रेनिंग या फिर डाइट में बदलाव किया जाता है।
  • तो वही यदि आपका सिरदर्द लंबे समय तक रहता है और बुखार, मतली, उल्टी, या दृष्टि में परिवर्तन जैसे अन्य लक्षणों के साथ हो रहा है तो इस समस्या में तुरंत नजदीकी डॉक्टर से मिलकर इसके कारणों को जानकर इलाज कराएं।

यदि आपको भी सिर के बाई तरफ के दर्द ने काफी परेशान कर रखा है तो इससे बचाव के लिए आप झावर ब्रेन एन्ड स्पाइन हॉस्पिटल का चयन कर सकते है, और सिर में इस तरह का दर्द होने पर बिना देरी किए डॉक्टर का चयन भी कर सकते है। 

निष्कर्ष :

यदि आपके सिर के बाई तरफ दर्द गंभीर कारणों की वजह से हो रहा है तो इस दर्द से निजात पाने के लिए जल्द ही डॉक्टर का चयन करें।

गंभीर सिरदर्द बन सकता है जानलेवा, जाने डॉक्टर द्वारा बताए गए के ऐसे लक्षण जिसका जानना है बेहद ज़रूरी
HeadacheHindi

गंभीर सिरदर्द बन सकता है जानलेवा, जाने डॉक्टर द्वारा बताए गए के ऐसे लक्षण जिसका जानना है बेहद ज़रूरी

सिरदर्द कई कारणों से होने लगता है | ज्यादातर मामलों में यह सिरदर्द अपने आप ही ठीक हो जाता है या फिर पेनकिलर के सेवन से कम हो जाता है…

  • July 13, 2024

  • 22 Views

क्या है सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस और कैसे करें इसका उपचार ?
CervicalHindi

क्या है सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस और कैसे करें इसका उपचार ?

सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस जिसे गर्दन में गठिया भी कहा जाता है, जिसके कारण आपके गर्दन में चोट अकड़न और दर्द का अनुभव हो सकता है | आज के दौर सर्वाइकल स्पोंडिलोसिस…

  • July 4, 2024

  • 40 Views